Volume : 3, Issue : 12, DEC 2017

BIHAAR KE KAIMOOR PATHAAR MEIN SEVA KENDRON KA STHAANIK VITARAN: EK BHAUGOLIK ADHYAYAN

PROF. SANJAY RAJ, PROF. VIDYA SHANKAR

Abstract

Keywords

Article : Download PDF

Cite This Article

Article No : 16

Number of Downloads : 87

References

  1. वंसल, सु0 च0 - (2005) गा्रमीण बस्ती भूगोल, मीनाक्षी प्रकाशन मेरठ।
  2. सिंह, जगदीश (1997) भूवैन्यासिक संगठन, एक मूलभूत, भौगोलिक संरचना, उत्तर भारत भूगोल पत्रिका अंक 13।
  3. तिवारी, आर0 सी0 (2003) अधिवास भूगोल, प्रयाग पुस्तक भवन ।
  4. कुमार, अनिल (1995) बिहार का भूगोल, नेशनल बुक ट्रस्ट इण्डिया।
  5. श्रीवास्तव, शर्मा एवं चैहान (2005) प्रादेशिक नियोजन एवं संतुलित विकास, वसुन्धरा प्रकाशन गोरखपुर।
  6. सिंह, एम0 वी0 एवं के0 के0 दूबे (1999) प्रादेशिक विकास नियेाजन, तारा बुक एजेन्सी वाराणसी।
  7. शर्मा, नन्देश्वर (2008) बिहार की भौगोलिक समीक्षा, वसुन्धरा प्रकाशन, गोरखपुर।
  8. अताउल्लाह, मो0 (2008) बिहार का आधुनिक भुगोल, ब्रिलियन्ट प्रकाशन, पटना।
  9. पाठक, गणेश कुमार , (1993): अध्ययन क्षेत्र बलिया (उ0प्र0) के सेवा केन्द्र एवं ग्रामीण विकास में उनका योगदान पी0एच0डी0 शोध प्रबन्ध, अवध विश्वविद्यालय, फैजाबाद।